दुनियाभर में कोरोना का कहर जारी है, वियतनाम भी इसी जानलेवा वायरस से लड़ रहा है। इस बीच यहां का बिन्ह थुआन प्रांत पूरी तरह कोरोना मुक्त हो गया है। साउथ सेंट्रल कोस्ट में स्थित जनरल हॉस्पिटल में डॉक्टर, नर्स और मेडिकल स्टाफ को जब कोरोना के आखिरी मरीज के पूरी तरह ठीक होने की खबर मिली, तो वे खुशी से चिल्लाने लगे और एक-दूसरे से लिपट कर रोने लगे।

खुशी के मारे निकल पड़े आंसू

दरअसल, कोरोना वार्ड में 17 लोगों के स्टाफ में से कोई भी पिछले एक महीने से घर नहीं गया। हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ. गुएन वान थान्ह ने बताया कि रात करीब 8:30 बजे थे। मरीजों की जांच और दवाई देने के बाद पूरा स्टाफ डिनर की तैयारी में लगा हुआ था।इसी दौरान खबर मिली कि अस्पताल में भर्ती कोविड-19 के आखिरी मरीज की रिपोर्ट निगेटिव आई है और वह पूरी तरह ठीक हो गया है। यह सुनते ही पूरे स्टाफ ने खुशी से चिल्लाते हुए लॉबी की तरफ दौड़ लगा दी और रास्ते में जो मिला, उससे गले लिपटकर रोने लगे। हर किसी की आंखों में आंसू थे।’ वान थान्ह के मुताबिक, हमारे यहां से ठीक हुई यह 36वीं और एक ही दिन में डिस्चार्ज हुई 11वीं मरीज थी। वह हाइपरटेंशन और फेफड़ों की बीमारी से पीड़ित भी थी। लेकिन हम उसे ठीक करने में सफल हुए।

एक महीने से स्टाफ घर नहीं गया, अब जल्द सब मिल सकेंगे

अस्पताल में संक्रामक रोग विभाग के प्रमुख डॉ. डूंग थी लोइ ने कहा कि हम भावनाओं पर काबू नहीं रख सके। ये खुशी के आंसू हैं। हमारे पास सुविधाएं नहीं हैं। सीमित संसाधनों में हम कोरोना मरीजों के इलाज में दिन-रात जुटे रहे। सभी अस्पताल में रहे और खुद को क्वारेंटाइन कर रखा था। परिवार वालों से सिर्फ चैट और वीडियो कॉल के जरिए बात होती थी। अब जब सब ठीक हो चुका है, तो उम्मीद है कि जल्द ही परिवार से भी मिल सकेंगे।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


The whole hospital staff wept with joy, When the last patient was cured, a province of Vietnam becomes Corona free



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here