X

नए साल में चलो दुनिया जन्नत बना लें, पढ़ें नए साल की शायरी


New Year 2021 Shayari: साल 2020 अलविदा कहने को तैयार है और नया साल 2021 वक्त की दहलीज पर खड़ा अपने आने की घड़ियां गिन रहा है. यह साल तो कोरोना के कहर में ही बीता लेकिन आने वाले नए साल से लोगों को काफी उम्मीदें हैं, कई सपनें हैं और कई अरमान भी हैं. न्यू ईयर को लेकर अभी से बाजारों की लकदक देखते ही बन रही है तरह तरह के कार्ड और गिफ्ट्स मार्केट में मिल रहे हैं. नए साल में आप इस बार थोड़े शायराना अंदाज में अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को शुभकामनाएं दे सकते हैं. आज हम आपके लिए ‘रेख्ता’ के साभार से लेकर हाज़िर हुए हैं नए साल की शायरी…

1. आज इक और बरस बीत गया उस के बग़ैर

जिस के होते हुए होते थे ज़माने मेरे

2.इक साल गया इक साल नया है आने कोपर वक़्त का अब भी होश नहीं दीवाने को

3. न शब ओ रोज़ ही बदले हैं न हाल अच्छा है

किस बरहमन ने कहा था कि ये साल अच्छा है.

4. कुछ ख़ुशियाँ कुछ आँसू दे कर टाल गया

जीवन का इक और सुनहरा साल गया.

5. तू नया है तो दिखा सुब्ह नई शाम नई

वर्ना इन आँखों ने देखे हैं नए साल कई .

6. न कोई रंज का लम्हा किसी के पास आए

ख़ुदा करे कि नया साल सब को रास आए.

7. ये किस ने फ़ोन पे दी साल-ए-नौ की तहनियत मुझ को

तमन्ना रक़्स करती है तख़य्युल गुनगुनाता है.

8. इक अजनबी के हाथ में दे कर हमारा हाथ

लो साथ छोड़ने लगा आख़िर ये साल भी.-  हफ़ीज़ मेरठी

9. नए साल में पिछली नफ़रत भुला दें

चलो अपनी दुनिया को जन्नत बना दें- अज्ञात

10. ऐ जाते बरस तुझ को सौंपा ख़ुदा को

मुबारक मुबारक नया साल सब को- मोहम्मद असदुल्लाह





Source link

admin: