जापान में प्रधानमंत्री शिंजो आबे की 'टू मास्क पॉलिसी' का मजाक उड़ रहा है। 1 अप्रैल को शिंजो आबे ने देश के 5 करोड़ लोगों को मास्क बांटने की घोषणा की।पॉलिसी के मुताबिक, हर घर में दो मास्क बांटे गए। मान जा रहा था मास्क का इस्तेमाल कई बार (रीयूजेबल) किया जा सकेगा लेकिन ये डिस्पोजेबल मास्क थे।लोगों तक जब ये मास्क पहुंचे सरकार की आलोचना शुरू हुई और इस पॉलिसी को अप्रैल फूल बताया गया।

दो ही मास्क, बच्चों को पहनाएं या खुद पहनें
कोरोना के खौफ के बीच जापान में सेनेट्री मास्क की कमी हो गई है। दुकानों पर स्टॉक खत्म हो गया है। लोगों का कहना है जिन घरों में बच्चे हैं वो पेरेंट्स क्याकरें। मास्क को खुद पहनें या बच्चों को पहनाएं। जापानी मीडिया ने भी इस खबर को दिलचस्प तरीके से पेश किया। न्यूजफ्लैश में लिखा, जापानी पीएम ने बतायाकि दो मास्क का बेहतर उपयोग कैसे करें।

जापानियों ने दूसरे देशों से तुलना की
'टू मास्क पॉलिसी' की तुलना जापानियों ने दूसरे देशों के साथ की। सोशल मीडिया पर लिखा गया, साउथ कोरिया में क्वारेंटाइन के दौरान बचाव के साथ खाने तकका सामान दिया जा रहा है। ताइवान में एक इंसान पर नौ मास्क बांटे गए हैं। 15 दिन में हर बच्चे को 10 मास्क दिए जा रहे हैं लेकिन जापान में एक घर पर दोही मास्क दिए गए वो सिर्फ एक बार। जापानी प्रशासन इतना अयोग्य है। हमें बेवकूफ मत बनाइए।

सोशल मीडिया पर बयां किया गुस्सा
जापान में पहले इस खबर को मजाक समझा गया बाद में साफ हुआ कि यह सच है तो गुस्सा और भी बढ़ा। सोशल मीडिया पर लोग अपना गुस्सा भी बयां कर रहेंऔर मीम्स भी बना रहे हैं। यूजर ज्यादातर ऐसी तस्वीरें शेयर कर रहे हैं जिसमें एक कपल अपने बच्चों के साथ है लेकिन बच्चों के चेहरे पर मास्क नहीं हैं।

## लगातार मदद कर रही है सरकार
भले ही जापान में 'टू मास्क पॉलिसी' का मजाक बन रहा हो लेकिन सरकार कोरोना से बचाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। सरकार ने पिछले महीने जापानके अस्पतालों में 1.5 करोड़ फेस मास्क बांटे हैं। अब जापानी सरकार बड़े स्तर पर बुजुर्गों और दिव्यांगों तक मास्क व जरूरी सुविधाएं पहुंचाने की योजना बना रही है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Shinzo Abe Japan Coronavirus | Shinzo Abe Japan Prime Minister Coronavirus COVID-19 Mask Plan Latest News Updates On Coronavirus Outbreak



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here