• जून 2019 में प्रत्यर्पण बिल के विरोध में सरकार विरोधी प्रदर्शन हुए थे
  • चीन लगातार हॉन्गकॉन्ग में विदेशी ताकतों के हस्ताक्षेप का आरोप लगाता रहा है

दैनिक भास्कर

Apr 18, 2020, 02:34 PM IST

बीजिंग. हॉन्गकॉन्ग में शनिवार को 2019 में शुरू हुए लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनों के मामले में 14 प्रमुख लोगों को हिरासत में लिया गया है। हॉन्गकॉन्ग के ‘साउथ चाइना मार्निंग पोस्ट’ अखबार के मुताबिक, गिरफ्तार लोगों में 81 साल के पूर्व सांसद और दिग्गज डेमोक्रेट मार्टिन ली चू-मिंग, 68 साल के राजनीतिक कार्यकर्ता अल्बर्ट हो और सामाजिक कार्यकर्ता ली चेउक-यान, लेउंग क्वोक-हंग, एयू नोक- हिन और राफेल वोंग हो-मिंग शामिल हैं।

 
साथ ही पुलिस मीडिया दिग्गज और एप्पल डेली के संस्थापक जिमी लाइ चे-यिंग की भी तलाश कर रही है। पुलिस ने उनके घर पर दबिश दी थी, लेकिन वे नहीं मिले। इन सभी पर पिछले साल 18 अगस्त और 1 और 20 अक्टूबर को सरकार विरोधी निकाले गए मार्च में भाग लेने का संदेह हैं। 

चीन ने कहा- विदेशी ताकतों के हस्तक्षेप से स्थिति बिगड़ी

हॉन्गकॉन्ग में प्रत्यर्पण बिल का विरोध करने के लिए जून 2019 से हिंसक प्रदर्शन शुरू हुए थे। हालांकि, अक्टूबर में इस बिल को वापस ले लिया गया था, लेकिन आंदोलन जारी रहा और लोकतंत्र की मांग की जाने लगी। चीन ने कहा है कि हॉन्गकॉन्ग में विदेशी ताकतें हस्ताक्षेप कर रही हैं। इसकी वजह से स्थिति बिगड़ी। यह हमारा घरेलू मामला है। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here