20 अप्रैल से खुल जाएगा ऑनलाइन मार्केट, खरीद सकते हैं मोबाइल फोन और टीवी समेत ये चीजें

टीवी, फ्रिज, मोबाइल फोन जैसे सामानों के ऑनलाइन बिक्री को मंजूरी

केंद्र सरकार ने गुरुवार को जानकारी दी है कि लॉकडाउन के दौरान 20 अप्रैल से मोबाइल फोन, टीवी, फ्रिज, लैपटॉप और अन्य स्टेशनरी आइटम्स को ई-कॉमर्स वेबसाइट के जरिये बेचा जा सकता है.

नई दिल्ली. अमेजन, फ्लिकार्ट और स्नैपडील जैसी ई-कॉमर्स कंपनियों के माध्यम से मोबाइल फोन, टेलीविजन, रेफ्रिजरेटर, लैपटॉप और साफ-सफाई से जुड़े उत्पादों की बिक्री की अनुमति 20 अप्रैल से होगी. अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी. 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ाये जाने को लेकर गृह सचिव अजय भल्ला द्वारा जारी संशोधित दिशानिर्देश के एक दिन बाद गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने यह स्पष्टीकरण जारी किया है.

यह भी पढ़ें:- कोरोना वायरस से जूझ रहे देशों को IMF देगा 1000 अरब डॉलर, ये देश हैं शामिल

डिलिवरी वाहनों को लेनी होगी मंजूरी
अधिकारी ने कहा कि मोबाइल फोन, टीवी, लैपटॉप जैसे इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद ई-कॉमर्स कंपनियों के मंच पर 20 अप्रैल से उपलब्ध होंगे. हालांकि इन सामानों की डिलिवरी करने वाले वाहनों को सड़कों पर चलाने के बारे में संबंधित प्राधिकरण से मंजूरी लेनी होगी. बुधवार को जारी दिशानिर्देश के अनुसार वाणिज्यिक और निजी प्रतिष्ठानों को बंद के दूसरे चरण में काम करने की अनुमति दी गयी है. मंत्रालय ने कहा, ‘‘ई-वाणिज्य कंपनियों के वाहनों को जरूरी मंजूरी के साथ सड़कों पर चलने की अनुमति होगी.’’यह भी पढ़ें:- SBI ग्राहकों के लिए खुशखबरी! ATM से पैसे निकालने पर नहीं लगेगा कोई चार्ज

इस सेक्टर से जुड़े लोगों को मिलेगी मदद
सरकार के इस कदम को औद्योगिक और वाणिज्यिक गतिविधियां शुरू करने के प्रयास के रूप में देखा जा रहा है. बड़ी संख्या में लोग ई-कॉमर्स कंपनियों के लॉजिस्टिक्स और सामानों की आपूर्ति के काम से जुड़े हैं. इन क्षेत्रों को खोलकर सरकार कर्मचारियों के एक बड़े तबके के हितों की रक्षा करना चाहती है.

दिशानिर्देश में यह भी कहा गया है, ‘‘जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति श्रृंखला से संबद्ध सभी सुविधाओं को परिचालन की अनुमति मिलनी चाहिए. चाहे वे स्थानीय, ई-कॉमर्स कंपनियों के जरिये इन वस्तुओं के विनिर्माण, थोक या खुदरा कारोबार से ही क्यों न जुड़े हों… .’’ इसमें उन्हें कड़ाई से सामाजिक दूरी का पालन करते हुए काम करने की अनुमति देने की बात कही गयी है.

यह भी पढ़ें:- खुशखबरी! सरकार ने कॉलेजों को लॉकडाउन में फीस लेने से किया मना इनको मिलेगी राहत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: April 16, 2020, 5:20 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here