प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस की महामारी से सबसे अधिक 63 मौतें अकेले इन्दौर में हुई हैं, जबकि उज्जैन में 17, भोपाल में 12, देवास में छह, खरगोन में छह, होशंगाबाद एवं मंदसौर में दो-दो और छिंदवाड़ा, जबलपुर, आगर मालवा, धार एवं खंडवा एक-एक मरीज की मौत हुई है. प्रदेश के कुल 52 में से 27 जिलों के लोग अब तक विड-19 के लिए संक्रमित पाए गए हैं. प्रदेश में इन्दौर में आज कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे अधिक 196 नए मामले आए हैं, जबकि इसके बाद भोपाल में 13, उज्जैेन में 13, जबलपुर में 10, रायसेन में पांच, होशंगाबाद देवास एवं हरदा में एक-एक नया मामला सामने आया है.

मध्य प्रदेश : गेहूं बेचने आए किसानों को पहले तहसीलदार ने दिया धक्का, फिर पुलिस ने भांजी लाठियां

इसी के साथ कोरोना वायरस की महामारी से बुरी तरह प्रभावित इन्दौर में COVID-19 की चपेट में आने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,372 हो गई है, जबकि भोपाल में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 428, उज्जैन में 119, जबलपुर में 69, होशंगाबाद में 33, रायसेन में 33, देवास में 24 हो गई है. इनके अलावा, खरगोन में अब कोरोना वायरस से 61 लोग संक्रमित हैं, जबकि धार एवं खंडवा में 36-36, आगर मालवा में 11, बड़वानी में 24, मुरैना, रतलाम एवं विदिशा में 13-13 लोग संक्रमित पाए गए.

NDTV की खबर का असर: मध्य प्रदेश में अब सरकारी राशन दुकानों में फिलहाल बायोमेट्रिक सत्यापन नहीं होगा

वहीं मंदसौर में नौ, शाजापुर में छह, सागर और छिंदवाड़ा में पांच-पांच, श्योपुर एवं ग्वालियर में चार-चार, अलीराजपुर में तीन, शिवपुरी एवं टीकमगढ़ में दो-दो और बैतूल, हरदा एवं डिंडोरी में एक-एक कोरोना वायरस की बीमारी के चपेट में आया है. वहीं दो मरीज अन्य राज्य के हैं. कोरोना वायरस के घातक संक्रमण को रोकने के लिए प्रदेश में प्रभावित जिलों में कुल 641 निषिद्ध क्षेत्र बनाए गए हैं। यहां लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जा रहा है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here