• अमेरिका ने कोरोना के लिए चौथा राहत पैकेज जारी किया,इससे घाटे में चल रहे छोटे व्यापरियों को कर्ज देने की योजना दोबारा शुरू होगी
  • न्यूयॉर्क के मेयर बिल डे ब्लेसियो ने कहा है कि मई के अंत तक ही पाबंदियां हटाने पर कोई फैसला किया जाएगा
  • दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा ने कहा- 1 मई से देश में धीरे-धीरे कोरोना से जुड़ी पाबंदियों में राहत दी जाएगी

दैनिक भास्कर

Apr 24, 2020, 03:16 PM IST

वॉशिंगटन. दुनिया में कोरोनावायरस से अब तक एक लाख 91 हजार 74 लोगों की मौत हो चुकी है। 27 लाख 26 हजार 274 संक्रमित हैं, जबकि 7 लाख 49 हजार 666 ठीक हो चुके हैं। मलेशिया ने संक्रमण रोकने के लिए लॉकडाउन दो हफ्ते बढ़ा दिया है। देश में कोरोना को लेकर लगाई गई पाबंदियां 28 अप्रैल को खत्म होने वाली थी लेकिन अब इसे 12 मई कर दिया गया है। यहां पर 18 मार्च को लॉकडाउन की घोषणा की गई थी। मलेशिया के प्रधानमंत्री मुहिद्दीन यासिन ने शुक्रवार को रमजान ने गुरुवार के राष्ट्र के नाम संबोधन में इसकी घोषणा की। उन्होंने कहा कि अगर देश में पॉजिटिव केस की संख्या इसी तरह कम होती रही तो कुछ सहूलियतें जल्द दी जाएंगी। अब तक देश में 5603 संक्रमित मिले हैं और 95 लोगों की मौत हुई है। वहीं, ऑस्ट्रेलिया में भी सरकार ने लॉकडाउन तोड़ने पर सख्ती की है।

सिडनी में तीन बीच पांच दिन बाद ही दूसरी बार बंद कर दिए गए। सरकार ने कहा था कि लोग सिर्फ कसरत करने के लिए बीच पर आएंगे। हालांकि लोगों ने इस नियम को नहीं माना। इसके बाद शुक्रवार दोपहर 1 बजे से क्लोवेली, कूगी और मारौब्रा बीच बंद कर दिया गया। अब इन्हें शनिवार और रविवार को सुबह 6 से 9 के बीच खोला जाएगा। यहां अब तक 6,675 पॉजिटिव केस मिले हैं और 79 मौतैं हुई हैं।

कोरोनावायरस : सबसे ज्यादा प्रभावित 10 देश

देश कितने संक्रमित कितनी मौतें कितने ठीक हुए
अमेरिका 8 लाख 86 हजार 709 50 हजार 243 85 हजार 922
स्पेन 2 लाख 13 हजार 024 22 हजार 157 89 हजार 250
इटली  1 लाख 89 हजार 973 25 हजार 549 57 हजार 576
फ्रांस 1 लाख 58 हजार 183 21 हजार 856 42 हजार 088
जर्मनी 1 लाख 53 हजार 129 5 हजार 575 1 लाख 6 हजार 800
ब्रिटेन 1 लाख 38 हजार 078 18 हजार 738 उपलब्ध नहीं
तुर्की  1 लाख 1 हजार 790 2 हजार 491 18 हजार 491
ईरान 87 हजार 026 5 हजार 481 64 हजार 843
चीन 

82 हजार 804

4 हजार 632 77 हजार 257
रूस 62 हजार 773 555 4 हजार 891

ये आंकड़े https://www.worldometers.info/coronavirus/ से लिए गए हैं।

अमेरिका में मरने वालों का आंकड़ा 50 हजार के पार

महामारी से बुरी तरह प्रभावित अमेरिका में पिछले 24 घंटे में  3 हजार 71 लोगों की जान गई हैं और 25 हजार 90 मामले सामने आए हैं। अब तक यहां 8 लाख 86 हजार से ज्यादा पॉजिटिव केस सामने आए हैं और 50 हजार 243 मौतें हुई हैं। लॉकडाउन की वजह से यहां करीब 2.6 लोग बेरोजगार हुए हैं। न्यूयॉर्क में पाबंदियां हटाने की मांग तेज हो गई है। लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इसके बावजूद न्यूयॉर्क के मेयर बिल डे ब्लेसियो ने कहा है कि मई के अंत तक ही इस पर कोई फैसला किया जाएगा।

अमेरीकी संसद ने चौथे राहत पैकेज को मंजूरी दी

अमेरिकी संसद ने शुक्रवार को 484 बिलियन डॉलर (करीब 37 लाख करोड़ रुपए) के राहत पैकेज को मंजूरी दे दी। इससे घाटे में चल रहे छोटे व्यापरियों को कर्ज देने की योजना दोबारा शुरू की जाएगी। इस पैकेज से अस्पतालों और टेस्टिंग गतिविधियों के लिए भी फंडिंग की जाएगी। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प इस पैकेज के लिए एक बिल लेकर आए थे, जिसे हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव ने मंगलवार को सर्वसम्मति से पारित किया। कोरोना संक्रमण के लिए अमेरिकी सरकार की ओर से जारी यह चौथा राहत पैकेज है। 

यह तस्वीर अमेरिका के एटलांटा की है, यहां की एक सुनसान सड़क दौड़ कर पार करता एक व्यक्ति।

अमेरिकी अधिकारी का दावा- सूरज की किरणें और ब्लीच से मर जाएगा कोरोनावायरस

अमेरिका के गृह विभाग के वरिष्ठ अधिकारी बिल ब्रायन ने कहा है कि सूरज की किरण और ब्लीच दोनों ही कोरोनावायरस को मार सकते हैं। उन्होंने व्हाइट हाउस में कोरोना पर रोजाना होने वाले प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह बात कही। हालांकि,उन्होंने कहा कि यह इंसानों के शरीर के लिए नुकसानदेह हो सकता है। तापमान और ह्यूमिडिटी पर निर्भर करता है कि वायरस कितनी देर बचेगा। सूरज की किरणें अगर सीधे वायरस पर पड़े तो वह जल्द मर जाएगा। उन्होंने बताया कि एक अध्ययन में पता चला है कि ब्लीच से वारयस पांच मिनट में और आइसोप्रोपाइल अल्कोहल से उससे भी जल्द मर जाएगा। 

अमेरिका के न्यूयॉर्क में लोगों ने कार रैली निकालकर पाबंदियों में राहत देने की मांग की।

इंडोनेशिया के राष्ट्रपति ने कहा- रमजान में संक्रमण की चेन तोड़ने की दुआ करें

इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो ने शुक्रवार को मुसलमानों को रमजान के पहले दिन संबोधित किया। अपने संदेश में उन्होंने कहा कि इस बार रमजान पर गलियों में उत्साह नहीं है। मस्जिदें सुनसान हैं। आइए हम सब मिलकर इस रमजान पर संक्रमण की चेन तोड़ने की दुआ करें, जिससे हम अपनी, अपने संबंधियों और राष्ट्र को सुरक्षित रख सकें। इससे पहले गुरुवार की आधी रात राजधानी जकार्ता से देश में कहीं आने-जाने पर रोक लगा दी गई थी। इंडोनेशिया में अब तक 7,775 संक्रमित मिले हैं और 647 की मौत हुई है। वहीं 960 लोग स्वस्थ हुए हैं। 

इंडोनेशिया के बाली स्थित एयरपोर्ट पर ट्रैवेल बैन लागू कराने के लिए तैनात पुलिसकर्मी।

दक्षिण कोरिया में पिछले 40 दिन में एक भी मौत नहीं

दक्षिण कोरिया में संक्रमण से मरने वालों की संख्या कम हो रही है। यहां पिछले 40 दिन में संक्रमण से एक भी मौत नहीं हुई है। दक्षिण कोरिया में अब तक 240 लोगों की मौत हुई है और 10 हजार 708 संक्रमित मिले हैं। 8 हजार 501 लोग ठीक भी हुए हैं। अब तक यहां 5 लाख 69 हजार लोगों का टेस्ट किया गया है। इनमें 9,600 लोगों के टेस्ट की रिपोर्ट का फिलहाल इंतजार है। देश ने संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए लिए लॉकडाउन लागू किया है। सिर्फ जरूरी सेवाएं काम कर रही हैं।

दक्षिण कोरिया के सियोल में 14 वीं शताब्दी के ग्येंगबोक पैलेस के सामने मास्क लगाकर गुजरता एक व्यक्ति। 

सिंगापुर में पिछले 24 घंटे में 897 नए मामले सामने आए

सिंगापुर में पिछले चौबीस घंटे में 897 नए मामले सामने आए हैं। नए मामलों में केवल 13 सिंगापुर के लोग हैं। संक्रमित होने वाले नए लोगों में ज्यादातर वर्क परमिट पर काम करने वाले मजदूर हैं। देश के स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी। यहां 43 छोटे-छोटे डोरमेट्री हैं जिनमें करीब 2 लाख मजदूर रहते हैं। डोरमेट्री काफी करीब में है। ऐसे में संक्रमण तेजी से यहां फैल रहा है। अप्रैल के शुरुआत में यहां पर जांच तेज होने के बाद संक्रमण के नए मामलों में तेजी देखी गई। फिलहाल ऐहतियात बरतते हुए सभी डोरमेट्री लॉकडाउन कर दिए गए हैं।

सिंगापुर के टैंगजोंग पागर में लोगों को क्वारैंटाइन करने के लिए टेंट बनाए गए हैं।

दक्षिण अफ्रीका मई से पाबंदियों में राहत देगा

दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा ने गुरुवार को कहा कि 1 मई से देश में धीरे-धीरे कोरोना से जुड़ी पाबंदियों में राहत दी जाएगी। संक्रमण से निपटने के लिए पांच स्तर वाली एक अलर्ट प्रणाली भी अपनाई जाएगी। 1 मई से पाबंदियों को पांचवें स्तर से चौथे स्तर पर लाया जाएगा। उन्होंने कहा कि अभी भी हमारे देश में वायरस के संक्रमण के रेट और इसके फैलने के तरीके के बारे में ज्यादा पता नहीं है। ऐसे में हमें यह फैसला करना पड़ा। फिलहाल यहां पर लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराया जा रहा है। 

दक्षिण अफ्रीका के केप टाउन में चांद रमजान के पहले दिन चांद का इंतजार करते मुसलिम समुदाय के लोग।

ब्रिटेन ने वायरस के लिए वैक्सिन तैयार किया

ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने कोरोनावायरस से लड़ने के लिए दवा तैयार की है और इसका इंसानों पर ट्रायल शुरू हो गया है। वैज्ञानिकों का दावा है कि इस वैक्सीन के सफल होने के 80% चांस हैं। इस दवा के ट्रायल प्रोग्राम के लिए करीब 187 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। ब्रिटेन के स्वाथ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने कहा कि आखिरकार हम दुनिया के पहले देश हैं, जिसने ऐसी दवा विकसित की है। हम इस जानलेवा वायरस की दवा ढूंढने के लिए अपना सबकुछ लगा देंगे।

महामारी के दौरान मानवाधिकार की रक्षा हो: गुटेरेस

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा है कि कोरोना महामारी के दौरान मानवाधिकारों की रक्षा की जानी चाहिए। उन्होंने एक वीडियो संदेश में कहा कोरोना महामारी स्वास्थ्य इमेंरजेंसी है। इसके साथ ही यह आर्थिक, सामाजिक और मानवता के लिए भी संकट है। यह तेजी से मानवाधिकार के लिए परेशानी का कारण बनता जा रहा है। ऐसे में सरकार को पारदर्शी और जवाबदेह होना चाहिए। सरकार को मीडिया, सामाजिक संगठनों और निजी सेक्टरों को आजादी देनी चाहिए।

चीन के वुहान में लोगों को क्वारैंटाइन सेंटर ले जाने के लिए बनाए गए कैंप के बाहर जुटे स्वास्थ्यकर्मी।

चीन में 6 नए पॉजिटिव केस मिले

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने शुक्रवार को 6 नए पॉजिटिव मामले सामने आने की पुष्टि की। गुरुवार को विदेश से आए दो लोग और देश में ही रह रहे चार लोग संक्रमित पाए गए थे। चीन में गुरुवार तक दूसरे देशों से आए संक्रमितों की संख्या 1,618 थी। इनमें से 32 की स्थिति गंभीर है और 34 मरीजों में काफी कम लक्षण मिले हैं। अभी तक देश में 82 हजार 804 संक्रमित मिले हैं और 4 हजार 632 की मौत हुई है। वहीं 77 हजार 257 संक्रमित ठीक भी हुए हैं।

फिलीपींस के मनीला स्थित एक बाजार में फेस मास्क बेचता एक दुकानदार।

फिलीपींस ने मेट्रो मनीला में लॉकडाउन बढ़ाया
फिलीपींस ने शुक्रवार को मेट्रो मनीला समेत सभी ऐसे स्थानों पर लॉकडाउन 15 मई तक बढ़ा दिया जहां कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। फिलीपींस के राष्ट्रपति के प्रवक्ता हैरी रोक इन बात की जानकारी दी। फिलीपींस में 16 मार्च से लॉकडाउन लागू किया गया था। सात अप्रैल को सरकार ने इसे 30 अप्रैल तक बढ़ाने की घोषणा की थी। अब तक यहां 6,981 मामले सामने आए हैं और 462 लोगों की मौत हुई है। 722 मरीज ठीक हुए हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here