Fortnite एक फ्री-टू-प्ले बैटल रॉयल गेम है, जो शुरुआत में पीसी पर लॉन्च किया गया था और साल 2018 में इसे Android और iOS के लिए भी जारी कर दिया गया था। हालांकि एंड्रॉयड यूज़र्स के लिए यह गेम Play Store में उपलब्ध नहीं है, बल्कि एंड्रॉयड यूज़र्स को इस फोर्टनाइट को Epic Games की आधिकारिक वेबसाइट के जरिए डाउनलोड करना होता है। अब यह गेम मोबाइल के लिए लॉन्च होने के 18 महीने बाद गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध हो गया है। लॉन्च के समय यह गेम गूगल प्ले स्टोर में उपलब्ध क्यों नहीं हुआ इसके पीछे का कारण था कि मूल रूप से एपिक गेम्स नहीं चाहती थी कि गूगल Fortnite की कमाई का हिस्सा ले। बता दें कि गूगल अपने एंड्रॉयड प्ले स्टोर में मौजूद एंड्रॉयड ऐप्स द्वारा की गई कमाई का एक लेती है।

Fortnite गेम 20 अप्रैल को Google Play Store पर लिस्ट हो गया था और इसे मुफ्त में डाउनलोड किया जा सकता है। यह गेम 107 एमबी के शुरुआती डाउनलोड साइज़ के साथ आता है, लेकिन इंस्टॉल करने के बाद गेम के अंदर 7.4 जीबी साइज़ की फाइलें डाउनलोड होती है। इसके अलावा यदि आप इस गेम को “एपिक” यानी सबसे अधिक क्वालिटी के ग्राफिक्स में खेलना चाहते हैं तो गेम में अलग से “एचडी ग्राफिक्स” डाउनलोड होते हैं।
 

Fortnite

पॉलीगॉन की एक रिपोर्ट के अनुसार, Epic Games ने एक बयान साझा करते हुए बताया कि आखिरकार उसने Fortnite को Google Play Store पर रिलीज़ करने का फैसला क्यों लिया। कंपनी का कहना है कि गेम को गूगल प्ले स्टोर पर लिस्ट करना इसलिए अनिवार्य हो गया, क्योंकि गूगल थर्ड पार्टी डाउनलोड को “मालवेयर” के रूप में चिह्नित करता है और यूज़र्स को ऐप की प्रामाणिकता पर संदेह करने के लिए कहता है।

गूगल अपने प्ले स्टोर पर ऐप्स डालने के लिए डेवलपर्स से 30 प्रतिशत का कमीशन लेती है। पिछले साल एपिक गेम्स ने गूगल को फोर्टनाइट को इस 30 प्रतिशत कमीशन के नियम से हटाने की शिफारिश की थी, लेकिन ऐसा प्रतित होता है कि गूगल ने इस शिफारिश को अस्वीकार कर दिया था।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here