Gmail पर खतरा! गूगल को मिले 24 करोड़ वायरस वाले Emails, कहीं आप भी तो नहीं कर रहे हैं ऐसी गलती

Gmail पर हैकर्स की नज़र है.

गूगल ने कहा कि उसके मशीन लर्निंग टूल्स फिल्टर के ज़रिए इनमें से 99.9% स्पैम, फिशिंग और मैलवेयर को यूज़र्स तक पहुंचने से रोक दिया गया.

गूगल (google) ने अप्रैल के दूसरे हफ्ते के दौरान हर दिन करीब 1.8 करोड़ मैलवेयर (malware) और फिशिंग ई-मेल दर्ज किए हैं, जो कोरोना वायरस से संबंधित थे. कोरोना वायरस ने आम लोगों में घबराहट पैदा कर दी है और शरारती और धोखाधड़ी करने वाले लोग आम लोगों में फैली इस अफरा-तफरी का फायदा उठाने की कोशिश कर रहे हैं. गूगल ने कहा है कि 1.8 करोड़ मैलवेयर और फिशिंग ई-मेल के अलावा  COVID-19 से संबंधित 24 करोड़ स्पैम मैसेज भी ट्रैक किए गए हैं.

गूगल ने कहा कि उसके मशीन लर्निंग टूल्स फिल्टर के ज़रिए इनमें से 99.9% स्पैम, फिशिंग और मैलवेयर को यूज़र्स तक पहुंचने से रोक दिया गया. गूगल के ब्लॉग पोस्ट में कहा गया है कि ये फिशिंग ई-मेल अपने फायदे के लिए यूज़र्स को डर और प्रलोभन दोनों के जरिए चाल में फंसाने की कोशिश करते हैं.

(ये भी पढ़ें-Reliance Jio ग्राहकों के लिए खुशखबरी! लॉकडाउन तक मिलेगी कॉलिंग से जुड़ी ये खास सुविधा)

ऐसे हो रही है हैकिंगगूगल ने आगे कहा कि COVID-19 के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले लोग WHO और इसी तरह की अन्य सरकारी और गैर -सरकारी वैध नाम-चीन संस्थाओं के नाम पर अनुदान मांगने वाले ईमेल भेजते हैं. इन ईमेल के साथ अटैच फाइल होती है जिसको डाउनलोड करते ही यूजर के कंप्यूटर में मैलवेयर चला जाता है जिससे हैकर की पहुंच यूज़र के संवेदनशील डेटा तक हो जाती है जिसका इस्तेमाल हैकर गलत उद्देश्य से कर सकते हैं.

गूगल अपनी फिल्टरिंग तकनीक को मजबूत करने के लिए डब्ल्यूएचओ के साथ मिलकर काम कर रहा है जिससे की WHO के नाम पर फ्रॉड मैसेज ना भेजे जा सकें. गूगल ने अपने यूज़र्स से सिफारिश की है कि वे अपने अकाउंट की सुरक्षा बढ़ाने के लिए Gmail पर सिक्योरिटी चेकअप पूरा करें.

(ये भी पढ़ें- WhatsApp ने इन यूज़र्स को दी ज़रूरी सलाह- इसलिए फौरन अपडेट कर लें अपना वॉट्सऐप) 

ना करें ऐसी गलती
गूगल ने यूज़र्स को ये भी सलाह दी है कि वह अनजानी फाइलों को डाउनलोड करने से बचें और इन फाइलों को देखने के लिए Gmail से built-in document preview का प्रयोग करें. इसके अलावा URL की जांच करके देखें कि वह सहीं है या नहीं और अंदेशा होने पर फिशिंग ईमेल के बारे में गूगल को सूचित करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऐप्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: April 18, 2020, 4:07 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here