• पायलट चीन से मेडिकल फील्ड से जुड़ा सामान लेकर लौट रहा था, उसे दिल बनाने में 9 मिनट अतिरिक्त लगे

  • विमान का नाम बोइंग 767 है जिसने शंघाई से आइसलैंड तक का सफर किया लेकिन पायलट का नाम नहीं जाहिर किया गया

दैनिक भास्कर

Apr 22, 2020, 08:55 PM IST

चीन से आइसलैंड लौट रहे एक पायलट ने बेहद दिलचस्प तरीके से स्वास्थ्य कर्मियों का शुक्रिया अदा किया। पायलट ने आइसलैंड के आसमान में दिल का आकार बनाकर कोरोना के कर्मवीरों को धन्यवाद कहा। पायलट चीन से मेडिकल फील्ड से जुड़ा सामान लेकर लौट रहा था। इससे पहले भी दुनियाभर में लोगों ने चिकित्साकर्मियों को अलग-अलग तरह से शुक्रिया अदा किया है। कहीं थाली और ताली बाजकर सम्मान व्यक्त किया और तो हीं उन फूलों की बारिश की गई। 

हॉस्पिटल के ऊपर बनाया दिल
पायलट ने आइसलैंड की राजधानी रेक्याविक के दो अस्पतालों के ऊपर दिल बनाया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यात्रा पूरी करने के बाद उसे ऐसा करने में 9 मिनट अतिरिक्त लगे। आसमान में डूडल बनाने के बाद फ्लाइट रेफ्लाविक एयरपोर्ट पर लैंड हुई। पायलट का नाम क्या है, इसकी जानकारी नहीं दी गई। 

दुनियाभर में एयर ट्रैफिक को ट्रैक करने वाली एजेंसी ने दी जानकारी

दुनियाभर में एयर ट्रैफिक को ट्रैक करने वाली एजेंसी फ्लाइट राडार 24 ने इस घटना की जानकारी अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर की है। पोस्ट के मुताबिक, विमान का नाम बोइंग 767 है जिसने शंघाई से आइसलैंड तक का सफर किया है। पोस्ट में एक लिंक भी शेयर किया गया है जिससे शंघाई से लेकर आइसलैंड तक के सफर को ग्रीन लाइन के रूप में देखा जा सकता है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here