• 2000-2018 के बीच 6 करोड़ कम लोगों ने तंबाकू उत्पाद इस्तेमाल कम किया

दैनिक भास्कर

Dec 20, 2019, 11:48 AM IST

हेल्थ डेस्क. दुनिया में पहली बार धूम्रपान करने वाले पुरुषों की संख्या घटने लगी है। यह दावा विश्व स्वास्थ्य संगठन की गुरुवार को जारी रिपोर्ट में किया गया है। इसमें कहा गया है कि तंबाकू की लत पर लगाम की दिशा में यह बड़ा बदलाव है। रिपोर्ट में अनुमान जताया गया है कि 2020 के अंत तक धूम्रपान करने वाले पुरुष 20 लाख और 2025 अंत तक 50 लाख घट जाएंगे।

हर साल 80 लाख मौतें
रिपोर्ट में कहा गया है कि तंबाकू उत्पाद का इस्तेमाल करने वाली महिलाओं और युवतियों की संख्या में तो लगातार कई वर्षों से गिरावट दर्ज हो रही थी। पर पहली बार पुरुषों में यह बदलाव देखने को मिला। अभी तक तो इनकी संख्या बढ़ ही रही थी। यूएन की स्वास्थ्य एजेंसी का मानना है कि इस गिरावट से संकेत मिलते हैं कि विश्व स्तर पर चलाए गए धूम्रपान विरोधी अभियानों का फायदा हुआ है। साथ ही चेतावनी भी दी है कि इसके लिए और काम करना जरूरी है, क्योंकि इसके चलते हर साल 80 लाख लोगों की मौत हो जाती है। 

100 करोड़ से ज्यादा धूम्रपान करने वाले
डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस गेब्रेसस ने कहा कि यह नतीजा सरकार द्वारा उद्योगों पर सख्ती के कारण मिला है। पिछले दो दशकों में तंबाकू उत्पादों का इस्तेमाल घट रहा है। वर्ष 2000 में 139.7 करोड़ लोग धूम्रपान करते थे। जो 2018 में घटकर 133.7 करोड़ रह गए। इस दौरान महिलाओं-युवतियों में आश्चर्यजनक रूप से कमी दिखी। 2000 में इनकी संख्या 34.6 करोड़ थी, जो पिछले साल 24.4 करोड़ ही रह गई।

रिपोर्ट के अनुसार 60% देशों ने 2010 के बाद तंबाकू के उपयोग में गिरावट देखी है। डब्ल्यूएचओ प्रवक्ता रुडिगर क्रेच के मुताबिक इस कमी के बावजूद हम संतुष्ट नहीं हैं। अभी भी 100 करोड़ से ज्यादा लोग धूम्रपान कर रहे हैं, यह चिंताजनक है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here