पैड्स का चुनाव करते समय कई बातों का ध्यान देना चाहिए। हाइजीन से लेकर पैड की बनावट तक, हर एक चीज पर ध्यान देना महिलाओं के लिए बेहद जरूरी होता है।

नई दिल्ली। महिलाओं को हर महीने आने वाले पीरियड्स कई तरह की परेशानी लेकर आते है इस दौरान महिलाओं को असहनीय पीड़ा से होकर गुजरना पड़ता है। पीरियड्स के दौरान महिलाओं को दर्द से ही नही, बल्कि पैड्स से होने वाली परशानियों से होकर भी गुजरना पड़ता है। इसलिए पैड्स को चुनते समय कई बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है। पैड की बनावट से लेकर हाइजीन तक, हर एक चीज पर ध्यान देना महिलाओं के लिए बेहद जरूरी होता है। तो चलिए आपको बताते हैं कि महिलाओं को पैड्स का इस्तेमल करते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

पैड्स का साइज
ज्यादातर महिलाएं पैड तो खरीद लेती है लेकिन इसके साइज पर ध्यान नही देती जो आगे चलकर उनकी लिए एक बड़ी समस्या बन जाती है। गलत साइज का पैड इस्तेमाल करने से रैशेज की समस्या होने लगती है। और नैपकिन भी जल्द भर जाता है, इसकी जगह पर लंबे साइज के पैड का इस्तेमाल करना जरूरी होता है।

अलग-अलग तरह के पैड्स
पीरियड्स के समय सैनिटेशन मेथड का भी ध्यान रखना चाहिए। अक्सर देखा जाता है कि महिलाएं ज्यादा व्लीडिंग के समय पैड्स की जगह कपड़े का इस्तेमाल करती है जो काफी गलत है। इन्हे ऐसा नहीं करने की सलाह दी जाती है। कोशिश करनी चाहिए कि जो पैड्स आप इस्तेमाल कर रही हैं, उसी का इस्तेमाल करें। ऐसा करने से रैशेज यानि चकते या फिर किसी तरह के इंफेक्शन होने से आप बचे रह सकते हैं।

पैड की क्वालिटी
पैड्स खरीदते समय उसकी क्वालिटी पर भी विशेष ध्यान देना चाहिये। सस्ते दामों में मिलने के चक्कर में अक्सर महिलाएं खराब क्वालिटी के पैड्स खरीदकर ले आती है जिससे इंफेक्शन का खतरा बढ़ने के साथ साथ स्किन को भी नुकसान पहुंचाता है। इसलिए हमेशा अच्छी क्वालिटी का पैड ही खरीदना चाहिए।

नाइट पैड का इस्तेमाल
महिलाओं को रात को सोते समय में हमेशा नाइट पैड्स का इस्तेमाल करना चाहिए अलग- क्योंकि ये पीछे की तरफ से ज्यादा लंबे और चौड़े होते हैं। जिससे कपड़े खराब नही होते। और रात भर अच्छी तरह से चल जाते है। अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो इससे आपकी त्वचा को नुकसान हो सकता है।









Source link