• नेतन्याहू ने ईरान के सुप्रीम लीडर खामनेई की अरबी, अंग्रजी और फारसी के ट्वीट के जवाब में हिब्रू में ट्वीट किया
  • खामनेई ने कहा- यहूदी सरकार को खत्म करने का मतलब यहूदियों को खत्म करना नहीं होता,हम यहूदियों के खिलाफ नहीं

दैनिक भास्कर

May 21, 2020, 05:28 PM IST

येरूशलम. इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने ईरान के सुप्रीम लीडर खामनेई को चेतावनी दी है कि वह इजराइल को खत्म करने की धमकी न दे। मजेदार बात है कि उन्होंने हिब्रू भाषा में ट्वीट कर अपनी बात रखी। नेतन्याहू ने गुरुवार को ट्वीट किया, ‘‘उसे ( खामनेई) समझना चाहिए कि जो भी देश इजराइल को तबाह करने की धमकी देगा वह खुद को ऐसे ही खतरों में पाएगा।’’
इससे पहले बुधवार को खामनेई ने फारसी, अंग्रेजी  और अरबी भाषा में ट्वीट कर इजराइल पर स्टेट टेररिज्म यानि सरकार की शह पर होने वाले आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया था। उन्होंने लोगों से यहूदी सरकार को खत्म करने के लिए आगे आने की अपील भी की थी।
खामनेई ने भी नेतन्याहू के ट्वीट का जवाब दिया
नेतन्याहू के ट्वीट पर खामनेई ने भी जवाब दिया। खामनेई ने गुरुवार को कहा कि यहूदी सरकार को खत्म करने का मतलब यहूदियों को खत्म करना नहीं होता। हम यहूदियों के खिलाफ नहीं है। इसका मतलब नेतन्याहू जैसे ठग को निष्काषित करना था। इजराइल को खत्म करना था। यहूदी सरकार स्टेट टेररिज्म का सबसे सटीक उदाहरण है। यहूदी सरकार के गठन के बाद से ही यह कैंसर की ट्यूमर की तरह काम कर रही है। उनका मकसद पुरुषों, महिलाओं और बच्चों की हत्या है।
पोम्पियो ने खामनेई के बयान की निंदा की
अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने खामनेई के इस बयान की निंदा की है। उन्होंने कहा कि ईरान के सुप्रीम लीडर खामनेई का बयान नफरत फैलाने वाला और यहूदी विरोधी है। ऐसे बयानों की टि्वटर या किसी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कोई जगह नहीं होनी चाहिए। पोम्पियो पिछले हफ्ते ही इजराइल के दौरे से लौटे हैं। इस दौरे पर भी उन्होंने ईरान पर अपने संसाधानों से आतंक फैलाने का आरोप लगाया था। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here