लॉकडाउन के बीच Jio का धांसू 'प्राग्राम'! दूसरों का रिचार्ज करके यूज़र्स कर सकते हैं कमाई

Jio

जियो ने हाल ही में ‘jio associate program’ की शुरुआत की है, जिसके तहत यूज़र्स को अपने दोस्त, रिश्तेदार या करीबी का रिचार्ज (Recharge) कराने पर कमाई करने का मौका मिलेगा.

नई दिल्ली. रिलायंस जियो (Reliance Jio) के ग्राहक अपने नेटवर्क पर अब दूसरे उपभोक्ताओं के अकाउंट को भी रिचार्ज कर सकेंगे, जिसके लिए उन्हें कैशबैक भी मिलेगा. जियो ने हाल ही में ‘jio associate program’ की शुरुआत की है, जिसके तहत यूज़र्स को अपने दोस्त, रिश्तेदार या करीबी का रिचार्ज (Recharge) कराने पर कमाई करने का मौका मिलेगा.

मिली जानकारी से पता चला है कि इसके लिए उन्हें करीब 4% का कमीशन मिलेगा. वे अन्य उपभोक्ताओं के खातों का रिचार्ज एक मोबाइल एप के ज़रिए कर सकेंगे. जियो ने ये कदम ऐसे समय उठाया है जबकि कोरोना वायरस की वजह से लागू लॉकडाउन के चलते बहुत से लोग अपने फोन को रिचार्ज नहीं कर पा रहे हैं.

(ये भी पढ़ें- जल्दी खत्म होती है आपके फोन की बैटरी और डेटा, तो अभी Off कर दें ये 3 Settings)

3 मई तक मिलेगी इनकमिंग की सुविधाइसके अलावा कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन (Lockdown-2.0) जैसी मुश्किल घड़ी में रिलायंस जियो एक बार फिर ग्राहकों का सहारा बनकर सामने आया है. रिलायंस जियो ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान उसके ग्राहकों को इनकमिंग कॉलिंग की सुविधा मिलती रहेगी. इससे ना सिर्फ कम कमाने वाले लोगों को फायदा होगा, बल्कि उन ग्राहकों को भी आसानी होगी जो लॉकडाउन के चलते घर से बाहर जाकर रिचार्ज नहीं करा सकते हैं.

यानी कि जो उपभोक्ता रिचार्ज नहीं करा पाए हैं, उन्हें लॉकडाउन के समाप्त होने तक इनकमिंग सुविधा मिलती रहेगी. MyJio और Jio.कॉम हमेशा हर जियो यूज़र को एक दूसरे से कनेक्ट रखने में मदद करता है.

(ये भी पढ़ें- WhatsApp की सीक्रेट ट्रिक! एक साथ 256 लोगों को भेजें Message, नहीं बनाना पड़ेगा Group)

Digital Recharges: जियो Jio यह सुनिश्चित कर रहा है कि हर Jio यूज़र अपने रिचार्ज, सेवा प्रश्नों और अनुरोधों के लिए MyJio ऐप और Jio.कॉम से जुड़े रहे. जियो.कॉम वेबसाइट 24 * 7 चालू रहेगी.

Physical Recharges: मिली जानकारी के मुताबिक ज़्यादा से ज़्यादा रिचार्ज आउटलेट 20 अप्रैल के बाद से खुल जाएंगे.

Third Party Recharges: ग्राहक वॉलेट और डिजिटल पार्टनर, जैसे फोनपे, पेटिएम, GPay, अमेज़न पे, मोबीक्विक, फ्रीरिचार्ज जैसे प्लैटफॉर्म का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

(डिस्क्लेमर: हिंदी न्यूज़ 18 डॉट कॉम रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गैजेट्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: April 25, 2020, 10:20 AM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here