Samsung स्मार्टफोन यूजर्स अब अपने स्मार्टफोन से Windows 10 PC पर बिना केबल के केवल फाइलों को ‘ड्रैग एंड ड्रॉप’ कर ट्रांसफर कर सकते हैं। इसकी जानकारी Microsoft ने खुद दी है। यह नया फीचर चुनिंदा सैमसंग गैलेक्सी डिवाइसों पर काम करेगा, जो लेटेस्ट ‘Link to Windows’ ऐप चला रहे हैं। यह ऐप विंडोज़ 10 पीसी को आपके गैलेक्सी फोन से जोड़ेगा। इसके अलावा ड्रैग एंड ड्रॉप का सपोर्ट केवल विंडोज़ इनसाइडर तक ही सीमित है। बता दें कि विडोज़ में एक ‘Your Phone’ डेस्कटॉप ऐप आता है, जो माइक्रोसॉफ्ट Windows 10 को  Android डिवाइसों से जोड़ता है। दूसरी ओर ‘लिंक टू विंडोज’ एक अलग नाम के तहत खास तौर पर सैमसंग फोन के लिए विकसित किया गया है।

यूज़र्स माइक्रोसॉफ्ट सपोर्ट प्लेटफॉर्म पर ‘लिंक टू विंडोज़’ ऐप को सपोर्ट करने वाली सैमसंग गैलेक्सी डिवाइसों की पूरी लिस्ट देख सकते हैं।

ड्रैग एंड ड्रॉप फीचर की बात करें तो इस फीचर की घोषणा माइक्रोसॉफ्ट फोरम पर की गई है और इसे पहली बार SamMobile द्वारा देखा गया। सैमसंग फोरम पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार, गैलेक्सी यूज़र्स इस फीचर का इस्तेमाल करने पर फोन से पीसी तक “फोल्डर के अलावा सभी तरह की फाइलों” को ड्रैग और ड्रॉप कर सकते हैं। कंपनी ने कहा है कि इस फीचर के सही से काम करने के लिए सैमसंग गैलेक्सी डिवाइस में ‘लिंक टू विंडोज’ का 1.5 या उससे नया वर्ज़न होना चाहिए। इसके अलावा Microsoft यह भी जानकारी साझा करती है कि फोन और पीसी को एक ही वाई-फाई नेटवर्क से जुड़ा होना जरूरी है। इसके अलावा कोई भी फाइल 512MB से बड़ी नहीं होनी चाहिए।

इस बीच, Sammobile की रिपोर्ट में कहा गया है कि यह फीचर उस Windows 10 PC पर काम करेगा, जो लेटेस्ट इनसाइडर बिल्ड पर काम करता हो।
 

How to use file drag and drop?

माइक्रोसॉफ्ट के मुताबिक, सैमसंग यूजर्स को सबसे पहले ‘Your Phone’ ऐप को पीसी पर खोलना होगा और ड्रैग एंड ड्रॉप फीचर का इस्तेमाल करने के लिए फोन स्क्रीन पर जाना होगा। Microsoft ने आगाह किया है कि यूज़र्स फाइलों को केवल फोन की गैलरी ऐप या सैमसंग माई फाइल्स ऐप से ही खींच सकते हैं।

एक बार जब यूज़र्स Your Phone ऐप पर फोन स्क्रीन खोल लेते हैं, तो वे ट्रांसफर करने वाली फाइलों को खोजने के लिए My Files ऐप या Gallery ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं।

जैसा कि नाम से पता चलता है ड्रैग और ड्रॉप फीचर में आपको ट्रांस्फर करने वाली फाइल को खींच कर पीसी के फाइल सिस्टम पर छोड़ देना होता है। इससे कॉपी और पेस्ट करने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले कई स्टेप्स बच जाते हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here