नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि शहर में पिछले तीन दिन में कोविड-19 के मामलों में मामूली कमी आई है. साथ ही, उन्होंने उम्मीद जताई कि आने वाले दिनों में इसमें और कमी आएगी.

कोरोना वायरस संक्रमण पर ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में केजरीवाल ने कहा कि शुक्रवार को कुल 2,274 नमूनों की जांच की गई, जिनमें से केवल 67 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई. कुछ दिन पहले तक रोजाना संक्रमण के 180 से 350 मामले आ रहे थे.

केजरीवाल ने कहा, ‘‘पिछले तीन दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में मामूली कमी आई है. मुझे आशा है कि आने वाले दिनों में इसमें कमी आएगी, यह बढ़ेंगे नहीं.’’

मुख्यमंत्री ने निषिद्ध क्षेत्र के निवासियों से अनुरोध किया कि वे नियमों का पालन करें और अपने-अपने घरों से बाहर ना निकलें.

केजरीवाल ने कहा, ‘‘कुछ निषिद्ध क्षेत्रों में लोग सड़कों पर दिख रहे हैं, जबकि इन इलाकों को कोविड-19 का प्रसार रोकने के लिए सील कर दिया गया है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह दुर्भायपूर्ण है कि कुछ निषिद्ध इलाकों में लोग अपने घरों से निकल रहे हैं और पड़ोसियों से मिल रहे हैं.’’

उन्होंने बताया कि कल जहांगीरपुरी इलाके के एक ही परिवार के 26 सदस्यों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, इसे निषिद्ध क्षेत्र घोषित कर दिया गया है.

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘मैंने आपसे (जनता) पहले ही कहा है कि यह आप पर निर्भर है कि आप कोरोना वायरस से संक्रमित होते हैं या नहीं. मैं आपसे हाथ जोड़कर विनती करता हूं कि निषिद्ध क्षेत्रों में अपने घरों से बाहर ना निकलें और प्रशासन द्वारा तय नियमों का कड़ाई से पालन करें.’’

उन्होंने यह भी कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में 71 निषिद्ध क्षेत्र चिह्नित किए गए हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण उन्मूलन में जुटे किसी स्वास्थ्यकर्मी की मौत होती है तो उसके परिजन को एक करोड़ रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी. उन्होंने कहा कि सरकार की इस योजना के तहत पुलिसकर्मी, सिविल डिफेंस, प्रधानाध्यापक और शिक्षक आएंगे जो कोविड-19 से जुड़ी ड्यूटी कर रहे हैं.

उन्होंने बताया कि सरकार ने अभी तक 31 लाख ऐसे लोगों को राशन दिया है, जिनके पास राशन कार्ड नहीं है. शुक्रवार तक दिल्ली में कोरोना वायरस से संक्रमण के 1,707 मामलों की पुष्टि हुई थी.

( इनपुट: भाषा )





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here