नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश (Utter Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होंगे. पिता के निधने की खबर मिलने के बाद उन्होंने कहा, ‘लोकमंगल के लिए समर्पित भाव के साथ कार्य करने का संस्कार बचपन में मुझे पिता ने दिया. अंतिम क्षणों में उनके दर्शन की हार्दिक इच्छा थी, परंतु वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के खिलाफ देश की लड़ाई को उत्तर प्रदेश की जनता के हित में आगे बढ़ाने का कर्तव्य बोध के कारण मैं न कर सका. कल 21 अप्रैल को अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में लॉकडाउन (Lockdown) की सफलता और महामारी करुणा को प्राप्त करने की रणनीति के कारण भाग नहीं ले पा रहा हूं.’ 

मुख्यमंत्री योगी ने लोगों से अपील करते हुए कहा, ‘लॉकडाउन का पालन करते हुए अंतिम संस्कार कार्यक्रम में कम से कम लोग शामिल हों. मैं लॉकडाउन के बाद दर्शनार्थ के लिए जाऊंगा.’

ये भी पढ़ें- आगरा समेत UP के इन 19 जिलों को Lockdown में छूट नहीं, देखें पूरी लिस्ट

आपको बता दें कि सीएम के पिता आनंद सिंह बिष्ट (Anand Singh Bisht) का आज 89 साल की उम्र में निधन हो गया. उन्होंने सुबह 10 बजकर 40 मिनट पर दिल्ली के एम्स में अंतिम सांस ली. आनंद सिंह बिष्ट का दिल्ली के एम्स में 13 मार्च से इलाज चल रहा था. उन्हें लिवर और किडनी की समस्या थी. गैस्ट्रो विभाग के डॉक्टर विनीत आहूजा की टीम उनका इलाज कर रही थी. उनकी हालत गंभीर बताई जा रही थी और वह पिछले कई दिनों से वेंटिलेटर पर थे. उनके पार्थिव शरीर को सड़क मार्ग से उनके पैतृक गांव पंचुर ले जाया जा रहा है. मंगलवार को हरिद्वार में अंतिम संस्कार होगा.

राज्य के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सीएम के पिता के निधन पर गहरा दुख जताया. उन्होंने कहा, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के पिता श्री आनंद सिंह बिष्ट जी के निधन की दुःखद सूचना प्राप्त हुई है. ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति और परिवार तथा शुभचिंतकों को संबल प्रदान करें. ॐ शांति ॐ.

उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता के निधन पर दुःख व्यक्त किया. 

लाइव टीवी





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here