वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग Zoom 5.0 अपडेट में मिले कई सिक्योरिटी कंट्रोल, ऐसे आप भी कर सकते हैं इस्तेमाल

नए अपडेट ज़ूम 5.0 में एनक्रिप्शन जोड़ा गया है

नए अपडेट ज़ूम 5.0 में एनक्रिप्शन (encryption) जोड़ा गया है, ताकि वीडियो और ऑडियो कॉल के लिए इसे सिक्योर और प्राइवेट ऑप्शन बनाया जा सके…

प्राइवेसी (privacy) से जुड़ा विवाद आने के बाद ज़ूम (zoom) ने सिक्योरिटी और प्राइवेसी के साथ नए ज़ूम 5.0 (zoom 5.0) अपडेट का ऐलान किया है. ये कंपनी के 90 डेज़ सिक्योरिटी प्लान (security plan) का हिस्सा है. नए अपडेट ज़ूम 5.0 में एनक्रिप्शन (encryption) जोड़ा गया है, ताकि वीडियो और ऑडियो कॉल के लिए इसे सिक्योर और प्राइवेट ऑप्शन बनाया जा सके. आइए जानते हैं ज़ूम 5.0 में क्या-क्या नया है… ज़ूम 5.0 अपडेट का प्राथमिक उद्देश्य AES 256-बिट जीसीएम एन्क्रिप्शन के लिए सपोर्ट जोड़ना है. आसान शब्दों में कहे तो ज़ूम 256 Bit Key के ज़रिए डेटा को एनक्रिप्ट करेगा, जिससे कि ज़ूम बॉम्बिंग को रोका जा सके.

साइबर क्रिमिनल्स या कोई अनजान व्यक्ति हैकिंग के ज़रिए ज़ूम पर आपत्तिजनक कंटेंट पोस्ट करे तो उसे ‘zoom bombing’ कहते हैं. इस तरह की हरकत हैकर्स स्क्रीन शेयरिंग फीचर का इस्तेमाल करके करते हैं. ज़ूम का नया एनक्रिप्शन ज़ूम मीटिंग, ज़ूम वीडियो वेबिनार और ज़ूम फोन के लिए उपलब्ध कराया है.

(ये भी पढ़ें- 4 कैमरे वाले इस नए 5G फोन के दीवाने हुए लोग, 1 मिनट में बिक गए 300 करोड़ रुपये के स्मार्टफोन) 

यूज़र्स कर सकते हैं शिकायतZoom 5.0 के नए फीचर में ‘Report user’ बटन दिया गया है. जैसा कि नाम से ही पता चल रहा है इस बटन से यूज़र ज़ूम बॉम्बिंग जैसी एक्टिविटी की शिकायत कर सकेंगे.

डिफॉल्ट मीटिंग पासवर्ड
अब मीटिंग्स पासवर्ड्स को डिफॉल्ट मोड में उपलब्ध कराया गया है. इसका सीधा मतलब है कि ज़ूम कॉल के लिए किसी गेस्ट का पासवर्ड जेनरेट करने का तरीका डिफॉल्ट रूप में आएगा.

कब मिलेगा Zoom 5.0 अपडेट?

ज़ूम 5.0 अभी जारी नहीं किया गया है लेकिन इसे इस हफ्ते तक उपलब्ध करा दिया जाएगा. ज़ूम 5.0 अपडेट यूज़र मैन्युअली भी पा सकते हैं. इसके लिए उन्हें zoom.कॉम/Download पर जाना होगा. इसके अलावा अगर आप ज़ूम ऐप का इस्तेमाल फोन पर कर रहे हैं तो इसके लिए आपको ऐप को अपडेट करना होगा.

(ये भी पढ़ें- 6 हज़ार रुपये सस्ता हुआ 48 मेगापिक्सल तीन कैमरे वाला OnePlus का ये स्मार्टफोन, लुक भी ज़बरदस्त)

क्या ज़ूम इस्तेमाल करना सेफ है?
ज़ूम 5.0 अपडेट का उद्देश्य इसकी गोपनीयता और सुरक्षा की आलोचनाओं पर ध्यान देना है. इस महीने की शुरुआत में, जूम के CEO एरिक ने कहा था कि अगले 90 दिन कंपनी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग प्लेटफॉर्म की सुरक्षा और गोपनीयता सुविधाओं को ठीक करने के लिए बिताएगी.

ज़ूम बॉम्बिंग के मामलों में वृद्धि के कारण, कई सरकारों और शैक्षणिक संस्थानों ने लोकप्रिय वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल न करने का फैसला किया है. जूम के अब लगभग 300 मिलियन डेली मीटिंग पार्टिसिपेंट हैं. ये पिछले महीने से काफी ज़्यादा हैं, जब इसने मुफ्त और पेड वर्जन पर हर दिन की मीटिंग को 200 मिलियन को पार कर लिया.

(ये भी पढ़ें-Airtel का बेहद सस्ता प्लान! 20 रुपये से कम में करें अनलिमिटेड फ्री कॉलिंग, पाएं डेटा ऑफर भी)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऐप्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: April 23, 2020, 12:53 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here